नव राष्ट्र मीडिया
पटना।
भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के राज्यव्यापी आह्वान पर बिहार को विशेष राज्य का दर्जा, बेघरों को घर सहित आम जनों के हित की 15 सूत्री मांगों के साथ आज पटना जिला के कई प्रखंडों पर पार्टी के नेतृत्व में धरना और प्रदर्शन किया गया। 
    पटना सदर प्रखंड पर प्रदर्शन के मद्देनजर भाकपा कार्यकर्ता विभिन्न इलाकों से दाऊद बिगहा कंकड़बाग में इकट्ठा हुए और बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देना होगा, सौंदर्यीकरण के नाम पर झोपड़ी उजाडना बंद करो, बेघरों को घर देना होगा, वृद्धा- विकलांग एवं विधवा पेंशन को पांच हजार करना होगा, महंगाई पर रोक लगाओ, प्रीपेड मीटर वापस लो, बिजली दर एवं निगम टैक्स में बढ़ोतरी नहीं सहेंगे, शिक्षकों के लोकतांत्रिक अधिकारों पर हमला नहीं सहेंगे आदि नारों को लगता हुआ प्रखंड कार्यालय पहुंचा।
सभा की अध्यक्षता जिला कार्यकारिणी सदस्य का. देवरत्न प्रसाद ने की। सभा को संबोधित करते हुए राज्य सचिवमंडल सदस्य का. रामलला सिंह ने राज्य पार्टी के आह्वान की आवश्यकता को बताया और कहा कि बिहार के विकास के लिए विशेष राज्य का दर्जा आवश्यक है, जो पिछले कई दशकों से लंबित है। जिला सचिव विश्वजीत कुमार ने कहा कि राज्य को विशेष राज्य के दर्जे की जरूरत है और बेघरों को घर की, बेकारों को काम की जरूरत है इसलिए उपरोक्त मांग को उठाना वक्त की जरूरत है साथ ही उन्होंने शिक्षकों पर दमन व लोकतांत्रिक अधिकारों पर हमले की निंदा की। पूर्व पार्षद व वरिष्ठ नेता मोहन प्रसाद ने प्रखंड व आंचल में हो रहे भ्रष्टाचार पर रोक लगाने व राजस्व कर्मचारी को प्रति दिन प्रखंड कार्यालय से काम करना सुनिश्चित कराने की मांग की। पटना साहिब अंचल सचिव शंभूशरण प्रसाद ने कहा कि हमारी मांगें पूरी नहीं हुई तो हम घेरा डालो डेरा डालो कार्यक्रम आयोजित करेंगे। कुम्हरार अंचल सचिव हरेंद्र पासवान ने मलाही पकरी में उजाड़े गए गरीबों को अब तक आवास नहीं देने की घोर निंदा की। बांकीपुर अंचल सचिव जितेंद्र कुमार ने बेघर को घर एवं सभी को पर्याप्त राशन देने की मांग की।
इसके अलावा खुसरूपुर, बाढ़, मोकामा, फुलवारी शरीफ आदि प्रखंडों पर भी जोरदार आंदोलन हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *