संजय श्रीवास्तव
आरा। केंद्र सरकार के एम.भी.आई कानून मे संशोधन के खिलाफ चालकों के राष्ट्रव्यापी तीन दिवसीय हड़ताल के समर्थन मे आरा पटेल बस स्टैण्ड पर ट्रक व बस चालकों ने रोड़ जाम कर अपना विरोध प्रदर्शन किया। इस हड़ताल के समर्थन मे भाकपा माले आरा नगर ईकाई के नेताओं ने रोड़ पर उतर कर अपना समर्थन दिया। आंदोलन के दौरान आरा बस स्टैण्ड पर एक सभा का आयोजन हुआ। इसकी अध्यक्षता भाकपा माले राज्य कमिटी सदस्य क्यामुद्दीन अंसारी ने किया।क्यामुद्दीन अंसारी ने कहा कि आज चालकों के राष्ट्रव्यापी हड़ताल का देश में ब्यापक असर देखा जा रहा है। गाड़ी चालकों पर एम भी आई कानून मे संशोधन कर 10 वर्ष की सजा और 7 लाख जुर्माना का प्रावधान घोर निंदनिय है। हम आज के आंदोलन के माध्यम से मांग करते है कि इस संशोधन को शीघ्र वापस लिया जाय। नगर सचिव दिलराज प्रीतम ने कहा कि यह सरकार जन विरोधी, और तानाशाह सरकार है। महंगाई चरम पर है। आवाज उठाने पर सांसदो को सांसद से बाहर कर मोदी सरकार देश की तबाही का न्या इतिहास लिख रही है।भाकपा माले नेताओं ने आह्वान किया कि 16 फरवरी 2024 को देश के 10 ट्रेड यूनियन की ओर से एक राष्ट्रव्यापी हड़ताल होगा जिसमे,कर्मचारी, सभी प्रकार के स्किम वर्कर्स, किसान,मजदूर,गाड़ी चालक इस आंदोलन मे उतरेंगे। कार्यक्रम मे शामिल लोगों मे राज्य कमिटी सदस्य व आइसा प्रदेश सचिव सबीर कुमार, राज्य कमिटी सदस्य व इनौस के प्रदेश सचिव शिवप्रकाश रंजन, एक्टू नेता भाकपा माले जिला कमिटी सदस्य बालमुकुंद चौधरी, पार्टी आरा , व्यवसाई नेता और भाकपा माले नगर कमिटी सदस्य बब्लू कुमार गुप्ता, भाकपा माले नेता राजु प्रसाद उर्फ नेता जी, नगर कमिटी सदस्य सुरेश प्रसाद, प्रमोद रजक आदि थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *