vijay shankar

पटना : जिला पदाधिकारी, पटना-सह-नोडल पदाधिकारी, जाति आधारित गणना, 2022-सह-प्रधान गणना पदाधिकारी, पटना डॉ. चन्द्रशेखर सिंह द्वारा आज बिहार जाति आधारित गणना, 2022 के द्वितीय चरण में डाटा इंट्री में प्रगति की समीक्षा की गई। इस बैठक में सभी चार्ज पदाधिकारी, प्रखंडों के सभी वरीय पदाधिकारी, अनुमंडल पदाधिकारीगण तथा कोषांगों के नोडल पदाधिकारी उपस्थित थे।

चार्ज से प्राप्त रिपोर्ट की समीक्षा के क्रम में पाया गया कि BIJAGA App पर डाटा इन्ट्री/सिन्क्रोनाइज किए गए परिवारों की अद्यतन संख्या 4,30,020 है जो कुल परिवारों की संख्या 13.69 लाख का 31.4 प्रतिशत है। डीएम डॉ सिंह ने कहा कि डाटा इंट्री में प्रगति संतोषजनक है। पटना जिला के सभी 45 चार्ज में गणना से संबंधित आँकड़ों के संकलन का कार्य भौतिक रूप से पूर्ण होने के पश्चात डाटा इंट्री का आज पहला दिन था। इन्टरनेट कनेक्टिविटी/स्पीड की कुछ समस्या आयी फिर भी सभी प्रगणक, पर्यवेक्षक तथा चार्ज अधिकारी द्वारा अच्छा कार्य किया गया। मोबाइल नेटवर्क एवं इन्टरनेट कनेक्टिविटी को सुदृढ़ करने के लिए प्रयास किया जा रहा है। डाटा इंट्री कार्य को भी शीघ्र पूरा कर लिया जाएगा।

डीएम डॉ. सिंह द्वारा सभी पदाधिकारियों को बिहार जाति आधारित गणना, 2022 के डाटा इंट्री कार्य को सर्वाेच्च प्राथमिकता देकर यथाशीघ्र पूरा करने का निर्देश दिया गया।

विदित हो कि बिहार जाति आधारित गणना, 2022 के द्वितीय चरण में पटना जिला के सभी 45 चार्ज में गणना से संबंधित आँकड़ों के संकलन का कार्य भौतिक रूप से पूर्ण होने के पश्चात संकलित आंकड़ों को सामान्य प्रशासन विभाग एवं बेल्ट्रॉन द्वारा निर्धारित प्रोटोकॉल एवं प्रक्रिया के अनुसार BIJAGA App के माध्यम से आज से प्रविष्ट एवं डाटा Synchronization किया जा रहा है। चार्जवार निर्धारित स्थलों पर शिविर लगाकर डाटा इंट्री का कार्य किया जा रहा है। इन स्थलों पर तकनीकी एवं सहाय्य कर्मियों की प्रतिनियुक्ति, मोबाइल नेटवर्क, इन्टरनेट कनेक्टिविटी सहित सभी आवश्यक व्यवस्था की गयी है।

डीएम डॉ. सिंह ने कहा कि बिहार जाति आधारित गणना, 2022 के द्वितीय चरण के डाटा इंट्री कार्यों में तकनीकी सहायता हेतु विभिन्न चार्ज में लगभग 200 तकनीकी कर्मी/कार्यपालक सहायक तैनात किए गए हैं। डाटा इन्ट्री एवं ऐप से संबंधित किसी भी प्रकार की तकनीकी समस्या के त्वरित समाधान एवं चार्जों को तकनीकी सहयोग प्रदान करने के लिए जिला स्तर पर गठित तकनीकी अनुश्रवण-सह-सहयोग कोषांग क्रियाशील है। इसमें ज़िला आईटी प्रबंधक, दो आईटी सहायक एवं तीन कार्यपालक सहायक प्रतिनियुक्त किए गए हैं। इस कोषांग द्वारा सभी चार्ज को आवश्यक तकनीकी सहयोग प्रदान किया जा रहा है। जिला सूचना एवं विज्ञान पदाधिकारी, पटना एवं सहायक सूचना विज्ञान पदाधिकारी, पटना को भी अपने स्तर से सभी प्रकार का आवश्यक तकनीकी सहयोग प्रदान करने का निदेश दिया गया है।

डीएम ने कहा कि ऐप से संबंधित किसी प्रकार की समस्या के समाधान एवं सहयोग के लिए यदि राज्य स्तर से सम्पर्क/समन्वय आवश्यक हो तो वह ज़िला आईटी प्रबंधक के माध्यम से और आईटी प्रबंधक द्वारा ही किया जाएगा। सभी चार्ज अधिकारी इसका अनुपालन सुनिश्चित करायेंगे।

डीएम डॉ. सिंह द्वारा माइक्रो-प्लान के अनुसार इंट्री कार्य करने का निदेश दिया गया है।

ज़िलाधिकारी ने कहा कि प्रखंडों के नोडल पदाधिकारी डाटा इंट्री कार्य का नियमित अनुश्रवण करेंगे।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *