प्रमंडलीय आयुक्त के निदेश पर पटना शहर में सोमवार से अतिक्रमण के विरूद्ध स्पेशल ड्राईव चलाया जाएगा , डीएम व एसएसपी द्वारा किया गया पाँच टीम का गठन

यातायात व्यवधान, अतिक्रमण एवं यातायात नियमों के उल्लंघन के विरूद्ध प्रशासन की शून्य सहिष्णुता; अन्तर्विभागीय समन्वय स्थापित कर निदेशों का अनुपालन सुनिश्चित करें: आयुक्त रवि ने अधिकारियों को दिया निदेश

विजय शंकर

पटना : आयुक्त, पटना प्रमंडल, पटना कुमार रवि के निदेश पर पटना शहर में सोमवार दिनांक 30.10.2023 से अतिक्रमण के विरूद्ध स्पेशल ड्राईव चलाया जाएगा। इसके लिए जिलाधिकारी, पटना डॉ. चन्द्रशेखर सिंह एवं वरीय पुलिस अधीक्षक, पटना श्री राजीव मिश्रा द्वारा पाँच टीम का गठन किया गया है। यह एक मल्टी-एजेंसी अभियान होगा जो पटना नगर निगम के छः अंचलों तथा दानापुर नगर परिषद में चलाया जाएगा। इसमें प्रशासन, नगर निगम, ट्रैफिक पुलिस, परिवहन, राजस्व, पथ निर्माण, स्वास्थ्य, पुलिस, अग्निशाम, पुल निर्माण निगम, दूरसंचार, वन प्रमंडल, विद्युत सहित विभिन्न विभागों के पदाधिकारी एवं कर्मी शामिल रहेंगे। सभी सम्बद्ध पदाधिकारी अन्तर्विभागीय समन्वय स्थापित कर निदेशों का अनुपालन सुनिश्चित करेंगे।

प्रत्येक टीम में दंडाधिकारियों, पुलिस पदाधिकारियों सहित महिला बल, पुलिस बल एवं लाठी बल को भी तैनात किया गया है। नगर निकायों से क़ार्यपालक पदाधिकारियों ,नगर प्रबंधकों, मुख्य सफाई निरीक्षकों, कर्मियों वीडियोग्राफर को लगाया गया है।

इस फ़ेज़ में यह अभियान 9 नवम्बर तक चलेगा। रोस्टरवार अनेक टीम हमेशा सक्रिय रहेगी। आयुक्त द्वारा इसकी प्रतिदिन समीक्षा की जाएगी तथा अभियान के परिणाम का ज़ायज़ा लिया जाएगा। इसके अनुसार आगे की कार्रवाई की जाएगी।

आयुक्त श्री रवि ने कहा कि वरीय पुलिस अधीक्षक यह सुनिश्चित करेंगे कि थानाध्यक्ष अतिक्रमण हटाने का विवरण स्टेशन डायरी में भी अंकित करें।अभियान चलाने से पहले क्षेत्र में अनुमंडल पदाधिकारी माईकिंग कराएंगे तथा अतिक्रमण हटाने की सम्पूर्ण प्रक्रिया की वीडियोग्राफी सुनिश्चित करेंगे। अतिक्रमण में प्रयुक्त सामानों की ज़ब्ती की जाएगी तथा नियमानुसार अर्थदंड लगाया जाएगा।

आयुक्त श्री रवि ने अतिक्रमण उन्मूलन अभियान में व्यवधान डालने वालों से सख्ती से निपटने का निर्देश दिया है। उन्होंने ऐसे तत्वों के विरुद्ध क़ानूनी कार्रवाई करने को कहा है। संबंधित अनुमंडल पदाधिकारी तथा अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी उक्त अतिक्रमण उन्मूलन एवं यातायात व्यवस्था सुचारू करने के कार्य के अवसर पर अपने-अपने क्षेत्रान्तर्गत विधि-व्यवस्था संधारण के सम्पूर्ण प्रभार में रहेंगे तथा कार्यक्रम के दौरान भ्रमणशील रहकर सतत् निगरानी रखेंगे।

आयुक्त श्री रवि ने वरीय पुलिस अधीक्षक को निदेश दिया है कि संबंधित अनुमंडल पुलिस पदाधिकारियों तथा थानाध्यक्षों के माध्यम से यह सुनिश्चित करें कि किसी भी स्थिति में पुनः अतिक्रमण न हो तथा यातायात व्यवस्था सुचारू रहे। संबंधित अनुमंडल पदाधिकारियों एवं अनुमंडल पुलिस पदाधिकारियों के नेतृत्व में फॉलोअप टीम लगातार सक्रिय रहेगी। जहां-जहां अतिक्रमण हटाया गया है वहां यह टीम पुनः अतिक्रमण की घटना से सख्ती से निपटेगी। पुनः अतिक्रमण करने वालों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज की जाएगी।

आयुक्त श्री रवि ने कहा कि यातायात पुलिस अतिक्रमण हटाओ अभियान के दौरान विशेष वाहन चेकिंग अभियान चलायेगा।

आयुक्त श्री रवि के निदेश पर जिला पदाधिकारी, पटना डॉ. चन्द्रशेखर सिंह द्वारा विशेष अभियान के तहत प्रभावशाली ढंग से अतिक्रमण उन्मूलन अभियान संचालित करने के लिए एक चार-सदस्यीय मॉनिटरिंग सेल का गठन किया गया है। यह निम्नवत हैः-
(क) अपर जिला दण्डाधिकारी, विधि-व्यवस्था, पटना
(ख) पुलिस अधीक्षक, यातायात, पटना
(ग) अपर नगर आयुक्त, पटना नगर निगम
(घ) सिटी मजिस्ट्रेट-सह-प्रभारी दण्डाधिकारी, जिला नियंत्रण कक्ष, पटना

आयुक्त श्री रवि ने कहा है कि सुव्यवस्थित यातायात-प्रबंधन प्रशासन की सर्वोच्च प्राथमिकता है। उन्होंने निदेश दिया कि मल्टी एजेंसी अभियान में विशेष अभियान प्रारम्भ से लेकर कार्य समाप्ति तक मॉनिटरिंग सेल के सभी पदाधिकारी संयुक्त रूप से क्रियाशील रहकर विशेष निगरानी रखेंगे।

विदित हो कि आयुक्त श्री रवि के निदेश पर पटना शहर में नियमित अंतराल पर तथा लगातार अतिक्रमण उन्मूलन अभियान चलाया जाता है। उन्होंने कहा कि वाहनों की संख्या में अप्रत्याशित वृद्धि के कारण अक्सर यातायात पर दबाव देखा जा रहा है। कंजेशन की समस्या दूर करने तथा सुचारू परिवहन के लिए यातायात-प्रबंधन आवश्यक है। इससे सड़क दुर्घटना को रोका जा सकता है। अतिक्रमण हटाने से इस लक्ष्य को हासिल करना आसान होगा।

आयुक्त श्री रवि ने कहा कि जिला नियंत्रण कक्ष, अनुमंडल पदाधिकारी, पटना सदर/पटना सिटी तथा दानापुर शहरी क्षेत्रों में सुचारू यातायात व्यवस्था हेतु सभी आवश्यक कार्रवाई करें। अवैध संरचना/अतिक्रमण को चिन्हित करते हुए दंडाधिकारियों एवं पुलिस पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति कर नगर निगम के कार्यपालक पदाधिकारियों के नेतृत्व में लगातार अभियान चलाएँ। पब्लिक न्यूसेंस हटाने के लिए पुलिस से प्राप्त प्रतिवेदन के आधार पर दं.प्र.सं. की धारा 133 में नोटिस देकर कार्रवाई करें।

आयुक्त श्री रवि ने कहा कि सुगम एवं सुचारू यातायात की व्यवस्था जनहित में अत्यावश्यक है। यह हमारे कार्यशैली एवं जीवन-शैली पर भी काफी प्रभाव डालता है। उन्होंने कहा कि यातायात व्यवधान, अतिक्रमण एवं यातायात नियमों के उल्लंघन के विरूद्ध प्रशासन शून्य सहिष्णुता के सिद्धांत पर काम करता है। सभी सम्बद्ध पदाधिकारी इसके लिए सजग, तत्पर एवं प्रतिबद्ध रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *